दूध के उबल कर गिरने का क्या मतलब है ? इसके क्या असर होते हैं ?

0
11239

पिछले चंद दिनों से सोशल मीडिया पर कुछ पोस्ट वायरल हो रहे है जिसमे लिखा है जिसमे ये कहा गये है कि अगर दूध उबालते हुए घर में गिर जाए तो उसके क्या नुक्सानात है यानी माली नुकसान के अलावा उस घर में रोहानी तौर पर क्या आफते आती है और क्या ये बद्सुकुनी कि अलामते हैं ?





आज इस पोस्ट में हम आपको बतायेंगे दूध से मुताल्लिक इस्लाम में क्या हुक्म, हदीस में इसकी क्या रिवायते हैं . दोस्तों इस मुताल्लिक एक वाक्या मिलता है, कहा जाता है दौर ए खिलाफत में हज़रात अली (र.अ.) के पास एक औरत आई और हाथ जोड़ कर अर्ज़ करने लगी या अली हमारे घर में झगडे बहुत होते है . हर तरफ तंगदस्ती का राज़ है कोई किसी से मुहब्बत नहीं करता, ऐसा क्युएँ है ? उस औरत का ये सवाल सुनते ही हज़रात अली (र.अ.) ने पुछा ऐ ओरत तुम ये बताओ क्या तुम अपने घर में जब अल्लाह का दिया हुआ रिज्क इस्तेमाल करती हो तो क्या उसमे से कुछ जाया भी होता है . औरत ने फ़रमाया या अली जब मैं अपने घर में दूध उबालती हूँ तो अक्सर थोडा ज़मीन पर गिर जाया करता है .





हज़रात अली (र.अ.) ने ये सुनते ही जवाब दिया कि ऐ औरत जब जब अल्लाह का दिया हुआ रिज्क पामाल होता है यानी पैरो के नीचे आता है उसकी तौहीन होती है तो उस घर से रिज्क उठा लिए जाता है बेबर्कती आजाती है, तंगदस्ती और ग़ुरबत आती है तो तुम्हारे घर में लड़ाई और झगडे होते है और बेसुकुनी और बेबर्कती आती है . तुम अल्लाह के दिए हो रिज्क कि इज्ज़त करो और ज़मानत लेलो कि तुम्हारे घर में बरकत, सुकून और रहमत वापस लौट आएगी और अल्लाह सबके दिलो में मोहब्बत डाल देगा और अल्लाह तुम्हे रिज्क अता करेगा .





खैर आज कल तो ये एक दम आम हो चूका है दूध उबालने के लिए रख भूल जाते है और थोडा बहुत दूध जाया हो जाता है . आगे से इस बात का ख्याल रखें कि अल्लाह की दी हुई रोज़ी का एहतराम करें चाहे वो दूध हो या कोई और शकल में .

Loading…

loading…



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here